Skip to content
VM Samael Aun Weor: Gnosis in Hindi - VOPUS
सत्य के बारे में हमारी राय, कितनी भी योग्य क्यों न हो सत्य नहीं हो सकती
Prophecies/2012

२०१२ मिथ्या या सत्य?

छापें ई-मेल
इस के लेख़क हैं सम्पादक   
२०१२ सूर्य शिला- ऐजतेक पञ्चांग

 

एक संशयवाद से परिपूर्ण समाज में जहाँ सनसनीखेज प्रकार की जानकारी, किसी वास्तु को प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से बेचने के लिए, अधिक ग्राहकों को आकर्षित करने या श्रोता उत्पन्न करने के लिए इस्तमाल की जाती है, वहाँ भविष्यवाणियाँ फिर सुर्ख़ियों में हैं.